समूचे देश में कोहराम मचा रहे कोरोना संक्रमण को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. सोनिया ने कहा मोदी सरकार ने राज्यों पर टीकाकरण छोड़ कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया है. उन्होंने कहा कि मैं केंद्र सरकार से मांग करती हूं कि देश के सभी नागरिकों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन मिले. दरअसल, कांग्रेस ने कोरोना संक्रमण पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई थी. इस बैठक में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी भी शामिल हुईं. बैठक के दौरान सोनिया गांधी ने देश में कोरोना की तीसरी लहर को लेकर आशंका जताते हुए चिंता भी जाहिर की और मौजूदा मोदी सरकार पर हमला बोला. बैठक के बाद एक प्रस्ताव भी पारित किया गया. इस प्रस्ताव में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर को मोदी सरकार की उदासीनता, असंवेदनशीलता और अक्षमता का प्रत्यक्ष परिणाम बताया. सीडब्ल्यूसी ने प्रस्ताव में कहा, ‘यह वैज्ञानिक सलाह की केंद्र सरकार की इच्छाशक्ति की अवहेलना, महामारी पर जीत की इसकी समयपूर्व घोषणा और चेतावनी के बावजूद पहले योजना बनाने में असमर्थता का प्रत्यक्ष परिणाम है. चेतावनी सिर्फ हेल्थ एक्सपर्ट्स ने ही नहीं, बल्कि संसद की स्थायी कमेटी ने दी थी. प्रस्ताव में कहा गया है कि पीएम को अपनी गलतियों के लिए प्रायश्चित करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here