Screenshot 20240505 191508

देश में इन दिनों चुनावी सीजन चल रहा है, सभी दल अपनी-अपनी पार्टी की जीत के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही है…कांग्रेस-बीजेपी,सपा-बसपा, आप समेत हर दलों का चुनाव प्रचार जारी है, इसी बीच विपक्षी दलों के नेता आए दिन लगातार अपना पाला बदल रहे हैं…और कांग्रेस को झटके पर झटका मिल रहा है…और बीजेपी में पार्टी नेताओं के शामिल होने की होड़ लगी है…अब लोकसभा चुनाव के बीच कांग्रेस को फिर एक और झटका लगा है। दरअसल छत्तीसगढ़ की कांग्रेस नेता और प्रवक्ता राधिका खेड़ा ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, राधिका खेड़ा ने कहा कि आज बेहद पीड़ा के साथ पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे रही है, अपने और देशवासियों के लिए हमेशा लड़ती रहूंगी, हमने कांग्रेस को 22 साल से ज्यादा वक्त दिया और ईमानदारी से कार्य किया, लेकिन वहां उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा, मैंने अयोध्या में श्री रामलला के दर्शन के लिए खुद को रोक नहीं सकी जिसके बाद मेरे साथ प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में अभद्रता हुई, धक्का- मुक्की सहनी पड़ी, जिस न्याय नहीं हुआ, हमने हमेशा दूसरों की न्याय के लिए लड़ाई लड़ी, लेकिन खुद की न्याय की बात आई तो कांग्रेस पार्टी में हमने खुद को हारा पाया।

 

कौन है राधिका खेड़ा?

  • राधिका खेड़ा एक राजनेता हैं
  • राधिका खेड़ा कांग्रेस में कई पदों पर रह चुकी हैं
  • छत्तीसगढ़ की राजनीति में ज्यादा सक्रीय
  • कांग्रेस की तेज तर्रार प्रवक्ताओं में गिनती होती थी
  • कांग्रेस में रहते हुए राष्ट्रीय मीडिया समन्वयक के पद पर रहीं
  • कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय सचिव और सोशल मीडिया प्रमुख भी रहीं।

क्यों छोड़ा कांग्रेस का साथ, क्या था विवाद?
दरअसल बीते 30 अप्रैल को कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे की जांजगीर-चांपा में चुनावी सभा थी, जिसके बाद सभा के बाद मीडिया में बयान देने को लेकर विवाद हुआ था, इस दौरान प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में राधिका खेड़ा राज्य के स्थानीय नेता और प्रवक्ताओं के साथ मौजूद थी..।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here