यूपी में कभी खौफ का पर्याय माना जाने वाला अतीक अहमद को अब डर सता रहा है। गुजरात के जेल में बंद माफिया अतीक अहमद को अपने एनकाउंटर की संभावना लग रही है। जानकारी के अनुसार अतीक अहमद ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दायर कर कहा है कि यूपी सरकार के कुछ मंत्रियों के बयान से लगता है कि उसका फर्जी एनकाउंटर किया जा सकता है। याचिका में उसने खुद को गुजरात से बाहर नही भेजने का आग्रह किया है। उधर कन्नौज से बीजेपी सांसद सुब्रत पाठक ने अपने ट्वीट कहा “यूपी पुलिस की सुरक्षा में उमेश पाल सहित पुलिस सुरक्षाकर्मी की हत्या सीधे सरकार पर हमला है। याद रखो जब विकास दुबे नहीं बचा तो इन दुर्दांतों का क्या होगा ये बताने की आवश्यकता नहीं है, और अब यदि गाड़ी अतीक की भी पलट जाय तो मुझे कोई आश्चर्य नहीं होगा” याचिका में अतीक के वकील ने न्यायालय से अपील की है कि अगर अतीक को पुलिस कस्टडी में रखकर पूछताछ करनी ही है तो गुजरात के पुलिस स्टेशन में न्यायालय के आसपास पूछताछ की जाये। उधर अतीक अहमद के वकील खान सौलत हनीफ ने कहा यूपी प्रशासन ने प्रयागराज में जो मकान ध्वस्त किया है वो बेनामी संपत्ति नही है। ये मकान जफर अहमद खान का है। जफर मूलतः बांदा का रहने वाला है। इस मकान को 7 जनवरी 2021 को जफर के पिता ने अपने धन से खरीदा था। इसके ठीक सामने अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन का मायका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here