मध्य प्रदेश में आज राज्य कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव पास हो गये। सीएम शिवराज सिंह चैहान की अध्यक्षता में हुई इस कैबिनेट बैठक के बाद सरकार के प्रवक्ता डॉ नरोत्तम मिश्रा ने ब्रीफिंग की। उन्होंने बताया कि भोपाल में चार और खंडवा, आगर मालवा, सिंगरौली में एक-एक नई तहसीलों के गठन को मंजूरी दी गई है।

तीन नई तहसील बनाने की मंजूरी

डॉ नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि कैबिनेट ने खंडवा जिले में छैगांव माखन को नई तहसील बनाने और 17 नए पद सृजित करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा सिंगरौली जिले के बरगवां और आगर मालवा में सोयत कला को नई तहसील बनाए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

भोपाल में नए तहसील का प्रस्ताव होल्ड

कैबिनेट में भोपाल में चार नई तहसील बनाने के प्रस्ताव को भी लेकर चर्चा हुई। गृहमंत्री नरोत्म मिश्रा ने बताया कि अभी भोपाल की चार नई तहसील के प्रस्ताव को होल्ड कर दिया है। सीएम ने प्रस्ताव को विस्तृत तरीके रखने को कहा है।

एक नज़र में देखें कैबिनेट के फैसले::
  1. कैबिनेट की बैठक में खंडवा में नई तहसील छैगांव माखन, सिंगरौली में नई तहसील बरगवां और आगर-मालवा में तहसील सोयतकला के गठन के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई। भोपाल में चार नई तहसीलों के प्रस्ताव को होल्ड कर दिया है।
  2. किसानों को राहत देते हुए बैंकों की ब्याज की राशि भरने की तारीख को 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया, जिसकी आखिरी तारीख 28 मार्च थी।
  3. मध्य प्रदेश पावर जेनरेटिंग कंपनी लिमिटेड द्वारा अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई में प्रस्तावित 1 बाय 660 मेगावाट क्षमता के नए सुपरक्रिटिकल ताप विद्युत इकाई की स्थापना को मंजूरी दी है। इस परियोजना की लागत 4665. 87 करोड रुपए का क्रियान्वयन मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी एवं कोल इंडिया लिमिटेड की सहायक कंपनी एसईसीएल के बीच गठित संयुक्त उपक्रम द्वारा किया जाएगा।
  4. परियोजना के वित्तीय पोषण के लिए 70ः ऋण वित्तीय संस्थान द्वारा 15ः अंश पूंजी एसईसीएल के द्वारा तथा बाकी 15ः अंश पूंजी राज्य शासन द्वारा बजट के माध्यम से मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी को साल 2022-23 से साल 2028-29 के बीच उपलब्ध कराई जाएगी। इस इकाई का निर्माण मप्र की भविष्य की जरूरतों को देखकर किया जा रहा है। इस यूनिट से साल 2027-28 में कमर्शियल उत्पादन शुरु करने की योजना है।
  5. जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर के अंतर्गत पन्ना जिले में नवीन कृषि महाविद्यालय खोलने की मंजूरी दी है। इसके लिए 3 सालों के लिए अनावर्ती व्यय 5190. 35 लाख रुपए तथा आवर्ती व्यय 3120.32 लाख रुपए की स्वीकृत दी है।
  6. प्रदेश में कृषि यंत्रीकरण को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार ने कृषि यंत्रीकरण के क्षेत्र में कौशल विकास योजना को मंजूरी दी है 3 सालों की योजना के अंतर्गत 6000 युवाओं को वृहद कृषि यंत्रों को चलाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे उन्हें स्वरोजगार शुरू करने में मदद मिलेगी। इसके लिए राज्य सरकार ने 22.73 लाख रूपए की मंजूरी दी है। इस योजना के जरिए कृषक परिवारों के बच्चों को ड्रोन चलाने की ट्रेनिंग दी जाएगी।
  7. श्योपुर जिले में 539 करोड की लागत से चैती खेड़ा वृहद सिंचाई परियोजना को मंजूरी दी गई। इससे 15300 हेक्टेयर क्षेत्र की सिंचाई होगी। है। परियोजना से सूक्ष्म सिंचाई पद्धति से विजयपुर ब्लाक के 16 गांव की 11118 हेक्टेयर जमीन और सबलगढ़ ब्लॉक के 16 गांव की 4112 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा मिलेगी।
  8. सरकार किसानों के बेटों ओर नौजवानों को को डोन उड़ाने की ट्रेनिंग देंगी। इसके लिए तीन साल में छह हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। सरकार ने इसके लिए 22.73 करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here