जम्मू-कश्मीर के राजौरी से एक दुखद खबर सामने आ रही है। यहां के कंडी इलाके में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में 05 जवानों को अपना बलिदान देना पड़ा। फिलहाल राजौरी में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई है। सेना की उत्तरी कमान की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि उसके जवान पिछले महीने जम्मू क्षेत्र के भाटा धुरियां के तोता गली इलाके में सेना के ट्रक पर घात लगाकर हमला करने वाले आतंकवादियों के एक समूह के खात्मे के लिए लगातार खुफिया सूचना आधारित अभियान चला रहे हैं।

यह भी पढ़ें- SCO की बैठक में भारत का आं​तकवाद पर प्रहार, विदेश मंत्री बोले- आतंकवाद के सभी प्रारूपों को रोकना होगा, बिलावल भुट्टो ने आतंकवाद से किया किनारा

कंडी जंगल में आतंकवादियों के होने की जानकारी

सेना की उत्तरी कमान की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, सेना को राजौरी सेक्टर के कंडी जंगल में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में जानकारी मिली थी। विशेष सूचना पर एक संयुक्त अभियान शुरू किया गया था। तलाशी के दौरान आतंकियों को सुरक्षाबलों ने घेर लिया और मुठभेड़ शुरू हो गई थी। अभी सेना का अभियान जारी है। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह और एडीजीपी जम्मू मुकेश सिंह राजौरी के कंडी इलाके में पहुंचे हैं।

घने जंगल की गुफा में छिपे थे आतंकी

बयान में आगे कहा गया है कि राजौरी सेक्टर में कांडी वन में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में विशिष्ट सूचना के आधार पर तीन मई को संयुक्त अभियान शुरू किया गया था। शुक्रवार सुबह करीब साढ़े सात बजे तलाशी दल ने एक गुफा में छिपे आतंकवादियों के एक समूह को घेरा। चट्टानों और खड़े पर्वतीय क्षेत्रों से घिरा यह इलाका बेहद घना जंगली क्षेत्र है।

आतंकियों ने किया विस्फोट

बयान के अनुसार आतंकवादियों ने इसके जवाब में विस्फोट कर दिया। सेना की टीम में शामिल 05 सैन्यकर्मी शहीद हो गए और कुछ जवान घायल हो गए। एक घायल अधिकारी मेजर रैंक के हैं। बयान में कहा गया है कि आस-पास के क्षेत्रों से अतिरिक्त टीम को मुठभेड़ स्थल भेजा गया है और घायल सैन्यकर्मियों को उधमपुर में कमान अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुंछ हमले के बाद से जारी है सर्च ऑपरेशन

20 अप्रैल को जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में हुए आतंकी हमले में सेना के पांच जवान बलिदान हो गए थे। इस हमले के बाद से ही भारतीय सेना लगातार आतंकियों के खिलाफ अभियान चला रही है। जम्मू-कश्मीर में लगातार सर्च ऑपरेशन चलाए जा रहे हैं। इसके साथ ही बुधवार से ही घाटी के अलग-अलग इलाके में आतंकियों को ढेर करने का सिलसिला लगातार जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here