मध्यप्रदेश के सीहोर में 300 फीट गहरे बोरवेल के गड्ढे में गिरी ढाई साल की सृष्टि को बचाने की मुहिम जारी है। बच्ची लगातार नीचे की तरफ धसकती जा रही है और शरीर में ज्यादा हरकत न होने के कारण प्रशासन की चिंता भी बढ़ गई है। उसे बाहर निकालने के लिए पुलिस, प्रशासन और NDRF का अमला जुटा हुआ है। लेकिन अभी तक कोई सफलता हाथ नहीं लगी है। वहीं, प्रशासन अब आर्मी को बुलाने की तैयारी कर रहा है।

खेत में खेलने के दौरान बोरवेल में गिरी सृष्टि

बता दें कि सीहोर के मुंगावली गांव में राहुल कुशवाहा की ढाई साल की बच्ची सृष्टि मंगलवार दोपहर घर के पास ही खेत में खेल रही थी। इसी दौरान वह बोरवेल के खुले पड़े गड्ढे में जा गिरी। बच्ची को बचाने के लिए प्रशासन की ओर से राहत और बचाव अभियान चलाया जा रहा है। बच्ची पहले 25 फुट की गहराई पर थी और अब वह खिसक कर लगभग 50 फुट की गहराई पर पहुंच गई है। साथ ही पानी का रिसाव भी हो रहा है।

बोरवेल में पत्थर खड़ी कर रहे परेशानी

प्रशासन के मुताबिक बच्ची के बाहर निकालने के लिए पहले हुक का सहारा लिया मगर उसमें भी सफलता नहीं मिली। बोरवेल के गड्ढे के समानांतर पोकलेन और जेसीबी मशीन की मदद से गड्ढा खोदा जा रहा है, मगर बीच में पत्थर आने के कारण अभियान बाधित हो रहा है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दल बचाव काम में लगे हुए है। बच्ची के परिजनों के अनुसार, मंगलवार की दोपहर को सृष्टि खेलने का कहकर गई थी। घर के पास ही दूसरे के खेत में बोरवेल पर तगारी रखी थी। वह उस में बैठी और अंदर गिर गई।

सेना को बुलाया गया

सीहोर के कलेक्टर आशीष तिवारी ने बताया कि हमने रातभर खुदाई की है लेकिन ज़मीन सख्त है, हम अभी 26-27 फुट नीचे तक पहुंच पाए हैं। मशीनें लगातार काम कर रही हैं। समय ज्यादा हो गया है जिसके कारण बच्ची ज्यादा प्रतिक्रिया नहीं दे रही है लेकिन लगातार ऑक्सीजन सप्लाई की जा रही है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर अब सेना को भी रेस्‍क्यू के लिए बुला लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here