बिहार में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने एक बड़ा ​बयान देकर सबको हैरान कर दिया. उन्होंने कहा है कि ना ही उन्हें मुख्यमंत्री बनने की इच्छा है और ना ही नीतीश कुमार जी को प्रधानमंत्री बनने की. हम जहां हैं वहां पर ही ख़ुश हैं.

तेजस्वी का बयान कर रहा हैरान

बिहार के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार के वारिस तेजस्वी यादव का ये बयान उस समय आया है जिस समय ताजपोशी को लेकर RJD और JDU के बीच खींचतान जारी है. वहीं, नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार के रूप में पेश किया जाता है. तेजस्वी यादव आगे कहते हैं, नीतीश कुमार जी ने NDA छोड़कर महागठबंधन में आने का जो फैसला लिया है हम उनके साथ मजबूती से खड़े हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में दिया बयान

बिहार विधानसभा में डिप्टी सीएम तेजस्वी ने ये बयान विधानसभा में को पथ निर्माण विभाग के बजट पर चर्चा के दौरान दिया. उन्होंने मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम पर भी कई अहम बाते कही हैं. सीएम नीतीश कुमार भी इस दौरान सदन में ही मौजूद रहे. हालांकि विपक्ष में बैठी बीजेपी के सदस्यों ने इस दौरान सदन से वॉकआउट कर दिया. डिप्टी सीएम ने विधानसभा में कहा, “ना मुझे मुख्यमंत्री बनना है और न ही नीतीश कुमार को प्रधानमंत्री बनना है. हम जहां हैं वहां खुश हैं. नीतीश कुमार ने जो निर्णय लिया है हम उसके साथ मजबूती से खड़े हैं और बिहार के विकास में लगे हुए हैं.”

‘ना लालू यादव डरे और न उनका बेटा डरेगा’

इस दौरान डिप्टी सीएम ने बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा, जहां उन्होंने कहा “हम लोग विकास के साधक हैं और ये लोग विकास में बाधक हैं. BJP से RJD सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव नहीं डरे और ना ही उनका बेटा यानी की तेजस्वी यादव डरेगा”

तेजस्वी को CM बनाने की होती रही है चर्चा

गौरतलब है कि इस समय बिहार में महागठबंधन की सरकार है जिसमें नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव के मुख्यमंत्री बनने को लेकर खींचतान चल रही है. इसी कड़ी में तेजस्वी यादव का बयान सामने आया है. RJD का कहना है कि नीतीश ​कुमार जल्द ही अपनी सीएम की कुर्सी छोड़ दें और राष्ट्रीय राजनीति की ओर रुख करें, वहीं तेजस्वी यादव बिहार के सीएम बनें. हालांकि पहले भी तेजस्वी यादव बता चुके हैं कि उन्हें मुख्यमंत्री बनने में फिलहाल को रुचि नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here