सोमवार को भोपाल में सरकारी भवन सतपुड़ा भवन में आग का तांडव देखा गया…. इस दरमियान करीब शाम 4 बजे थे … इस भवन में प्रदेश शासन के कई संचालनालय के दफ्तर है…. तीसरी मंजिल पर कर्मचारी अपने काम पर व्यस्त थे…कुछ कर्मचारी घर जा चुके थे..क्योंकि शाम का वक्त था…अचानक इसी मंजिल  शॉर्ट सर्किट हुआ, एक एसी ब्लास्ट हुआ…फिर चिंगारी फैली… आग लगी…आनन-फानन में यहां मौजूद कर्मचारी और लोग भागने लगे…चंद मिनटों पर देखते ही देखते आग ने अपना रौंद्र रूप ले लिया…आनन-फानन में सूचना पर दमकल विभाग और पुलिस बल मौके पर पहुंचा..तब तक आग भीषण हो चुकी थी… बाद में आग आदिम जाति क्षेत्रीय विकास परियोजना के दफ्तर पर जा पहुंची…फिर चौथी मंजिल पर स्थित स्वास्थ्य संचालनालय को भी अपनी चपेट में ले लिया…जिससे दोनों विभाग की मौजूद सभी फाइलें जलकर खाक हो गई…।

दरअसल यहां पर प्रदेश की इस विभाग से जुड़ीं सभी फाइलें रखी हुई थी…जिसे आग ने आपनी लपटों में जला दिया.. धीरे-धीरे आग की रफ्तार 5वें और 6ठें मंजिल में जा पहुंची…दमकल विभाग के कड़े प्रयासों के बावजूद भी देर रात 12 बजे तक आग शांत नहीं हुई थी…तब तक लोगों को भारी भीड़ देखी गई…।

हालांकि इससे बड़ी संख्या में अहम दस्तावेज और फर्नीचर जलकर राख हो गए, यहां तक की 30 से ज्यादा एसी ब्लास्ट हो गए…घटना में कोई जनहानि नहीं हुई..।

इसे भी पढ़ें- मोदी सरकार का किसानों को बड़ा तोहफा, MSP पर बढ़ोत्तरी को कैबिनेट की मंजूरी, BSNL को भी मिला बड़ा पैकेज

बतादें कि आग इतनी भीषण थी कि 14 घंटे और कड़ी मशक्कत के बाद काबू पाया जा सका…. इस दौरान दमकल विभाग…फायर फाइटर्स आग बुझाने में जुटे रहे.. लेकिन आग का भयावहता को देख पहले सेना को बुलाना पड़ा..फिर देर शाम सीएम शिवराज ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने एयरफोर्स की सहायता मांगी है.. ।

इसे भी पढ़ें- ओरंगजेब पर बवाल, फडणवीस बोले- औरंगजेब की तारीफ करने वालों के लिए कोई माफी नहीं

सरकारी लिहाज से इस अग्निकांड से बहुत बड़ा नुकसान हुआ है…क्योंकि इसी भवन में मध्य प्रदेश के कई सरकारी विभागों के कार्यालय हैं.. और यहां इन्ही विभागों को जुड़ी सभी फाइलें जलकर राख हो गई है..।

इसे भी पढ़ें- MP: बोरवेल में फंसी सृष्टि, बचाने की कोशिशें जारी, सेना को भी बुलाया गया

दरअसल चुनाव से पहले सरकारी भवन में आगजनी की घटना से विपक्ष सरकार पर हमलावर है… और राज्य सरकार पर साजिश का आरोप लगा रहा है…और सवाल उठा रहा है…कि आखिर आग कैसे लगी ?, क्या जान बूझकर आग लगाई गई है… या फिर भ्रष्ट्राचार से जुड़ी फाइलों को दबाने के लिए ऐसा किया गया…? इस तरह के तमाम तरह के आरोप कांग्रेस प्रदेश सरकार पर लगा रही है…।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here